Home > समाचार > राजस्थान में सरकार तो बदली लेकिन गुर्जर आंदोलन का तरीका नहीं, जानिए क्या हुआ है असर

राजस्थान में सरकार तो बदली लेकिन गुर्जर आंदोलन का तरीका नहीं, जानिए क्या हुआ है असर

gurjar andolan

राजस्थान में भले ही सरकार बदल चुकी हो लेकिन आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर समुदाय का रुख अभी भी वैसे ही है। उन्होंने अपना आंदोलन शुरू कर दिया है और इसको लेकर दिल्ली मुंबई रेल मार्ग पूरी तरह से ठप हो गया है।

इस प्रदर्शन के चलते 21 ट्रेनों के प्रभावित होने की खबर सामने आई है। दरअसल गुजरात गुर्जर समुदाय राजस्थान में नौकरी और शिक्षा के क्षेत्र में पांच फीसदी आरक्षण की मांग कर रहा है।

राजस्थान के विभिन्न हिस्सों से खबर सामने आ रही है कि गुर्जर समुदाय अपनी मांगों के लिए लगातार प्रदर्शन कर रहा है और रेल मार्ग के साथ-साथ अन्य जगहों पर भी प्रदर्शन की वजह से असर पड़ा है।

वही सरकार ने तीन मंत्रियों की एक टीम बनाई है जो आज गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के साथ बातचीत करने के लिए जाएंगे। इस टीम में विश्वेंद्र सिंह, समाज कल्याण मंत्री भंवरलाल मेघवाल और रघु शर्मा को शामिल किया गया है।

इसे पहले गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी सिंह ने मीडिया से कहा था कि गुर्जर समुदाय को उसी तरह पांच फीसदी आरक्षण दिया जाए जिस तरह केंद्र सरकार ने आर्थिक रूप से पिछड़े हुए लोगों को 10 फीसदी का आरक्षण दिया है।

उन्होंने कहा कि हमने सरकार से अपनी मांग रखी थी लेकिन इस पर कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई। जिसके बाद हम अब प्रदर्शन करने के लिए मजबूर हैं।

Leave a Reply